Category: ब्यूटी टिप्स

अनचाहे बालों को हटाने का तरीका

Beauty अर्थात सुन्दरता की जब भी बात आती है तो सिर के बालों का तो सुन्दरता में विशेष महत्व रहता है लेकिन शरीर पर जगह जगह बाल होना अर्थात अनचाहे बालों का होना सुन्दरता के लिहाज से बिलकुल ठीक नहीं होता है | कहने का आशय यह है की जहाँ मनचाहे बाल खूबसूरती पर चार चाँद लगाने में सहायक हैं वही अनचाहे बालों को सुंदरता पर एक बदनुमा दाग कहो तो अतिश्योक्ति नहीं होगी । जो व्यक्ति या महिला अनचाहे बालों की समस्या से त्रस्त होते हैं उनका पहला लक्ष्य इन्हें नजरों से हटाना ही होता है । इसमें यह समझना अति आवश्यक है कि बाल अंदरूनी कारणों (Hormonal Imbalance) की वजह से आते हैं । चेहरे पर बाल दिखने पर उसे कभी भी नहीं हटाना चाहिए क्योंकि जब मरीज हटाने के प्रयास में थ्रेडिंग, वैक्सिंग, शेविंग, इलैक्ट्रोलिसिस का सहारा लेता है तो इससे स्थिति और गंभीर रूप धारण कर लेती है । अनचाहे बालों का परमानेंट ईलाज: अनचाहे बालों के उपचार यानिकी ईलाज हेतु अनिवार्य यह हो जाता है की जो व्यक्ति इस समस्या से ग्रसित हो उसका सबसे पहले Hormonal Imbalance ठीक हो । आए हुए बालों को हटाने के लिए Photothermolysis की आवश्यकता होती है। ऐसे
Read More

सर्दियों में सुन्दर दिखने के लिए 30 जरुरी टिप्स |

मौसम बदलने के साथ ही त्वचा की जरूरतें भी बदलने लगती हैं, सर्दियों में सुन्दर दिखने के लिए त्वचा को खुश्की से बचाना एवं उसे कान्तियुक्त बनाये रखना अत्यंत महत्वपूर्ण है | आज हम हमारे इस लेख के माध्यम से जानने की कोशिश करेंगे की सर्दियों में सुन्दर दिखने के लिए चेहरे एवं अन्य स्थलों की त्वचा का कैसे ध्यान रखें की त्वचा एकदम खिलती चमकती एवं कान्ति से भरपूर नज़र आये | इसके लिए नीचे कुछ सुझाव अर्थात टिप्स दिए जा रहे हैं जिनका अनुसरण करके सर्दियों में भी Beautiful नज़र आया जा सकता है | कोशिश करनी चाहिए की सर्दियों में चेहरा साबुन न धोएं। क्योंकि साबुन का उपयोग करने से   चेहरे का रूखापन बढ़ सकता है । दिन में दो बार क्लीजिंग मिल्क से त्वचा की सफाई करने पर और  इसके बाद किसी अच्छे मॉइस्चराइजिंग साबुन या फेस वाश से चेहरा धोने से  मॉइस्चराइजिंग साबुन त्वचा को अतिरिक्त नमी प्रदान कर पाने में समर्थ होगा। जैसा की हम अपनी पिछली अनेक लेखों में बता चुके हैं की आंखों के चारों ओर की त्वचा बेहद मुलायम एवं कोमल होती है । इसलिए मुंह धोने के बाद किसी अच्छी कंपनी की अंडर आई क्रीम का इस्तेमाल किया जा
Read More

जानिये कौन कौन से हैं सोलह श्रृंगार हिन्दी में |

जब भी औरतों या महिलाओं की सजने सँवरने की बात आती है तो हर किसी के जुबान पर आता है सोलह श्रृंगार नामक यह नाम | भारतीय संस्कृति में सोलह श्रंगार नामक यह प्रक्रिया आदिकाल से ही चली आ रही है अर्थात प्राचीन काल में भी रूपसियों एवं अन्य महिलाओं के द्वारा सोलह श्रृंगार को प्रमुखता दी जाती रही है । यद्यपि वर्तमान में महिलाओं द्वारा अपने आप को सुन्दर एवं आकर्षक दिखाने के लिए कुछ सोलह श्रंगारों को पहना या अपनाया जाता है इसलिए ब्यूटी टिप्स नामक इस श्रेणी में आज हम उन सोलह श्रृंगारों के बारे में जानेंगे जिनकी लिस्ट हिन्दी में कुछ इस प्रकार से है | मेहंदी: सोलह श्रंगार की लिस्ट में पहला नंबर मेहँदी का है वर्तमान में मेहँदी का उपयोग बढ़ चूका है लगभग हर शुभ कार्य जैसे शादी ब्याह, करवा चौथ, रक्षा बंधन, शादी की सालगिरह इत्यादि पर महिलाओं एवं कुछ अवसरों पर पुरुषों द्वारा भी मेहँदी लगाई जाती है | मेहँदी का उपयोग विशेषतः हाथों एवं पैरों की सुन्दरता के लिए किया जाता है | फेस पैक व उबटन: सोलह श्रंगार की लिस्ट में दूसरा नंबर चहरे पर लगाये जाने वाले पैक एवं उबटनों का है | शरीर की सुंदरता कोहनी
Read More

होम मेड ब्यूटी टिप्स | 33 Home Made Beauty Tips in Hindi

होम मेड ब्यूटी टिप्स की यदि हम बात करें तो हमें सैकड़ों ऐसे टिप्स मिल सकते हैं जो कहीं न कहीं त्वचा को खूबसूरत बनाने में सहायक होते हैं | लेकिन आज हम यहाँ पर ब्यूटी टिप्स श्रेणी के अंतर्गत कुछ गिनी चुनी आजमाए हुए नुस्खों के बारे में बात करेंगे | वैसे यदि हम देखें तो बाज़ार में ब्यूटी सम्बन्धी कृत्रिम उपचार उपलब्ध हैं लेकिन इनका बहुतायत उपयोग त्वचा को नुकसान पहुंचा सकता है | इसलिए आज हम ब्यूटी टिप्स नामक इस श्रेणी में कुछ आजमाई हुई होम मेड ब्यूटी टिप्स के बारे में हिंदी में जानेंगे | गुलाबजल या ककड़ी के रस को निकालकर फ्रिज में ठंडा करने के लिए रख दें और जब यह ठंडा हो जाय तो इसे चेहरे पर लगायें कुछ दिनों के बाद चेहरे पर स्वत: ही निखार आना शुरू हो जायेगा | इस होम मेड ब्यूटी टिप्स के अंतर्गत अन्नानास का जूस निकालें और उसे चेहरे पर लगायें यह खूबसूरती पाने का बिल्कुल आसान तरीका है | तिल को पीसकर उसमे पानी मिलाया जा सकता है और फिर उसे छानकर उस पानी को चेहरे पर लगाया जा सकता है | यह होम मेड ब्यूटी टिप्स कहता है की थोड़ी सी काली उड़द
Read More

हर उम्र में खूबसूरत दिखने के तरीके

यहाँ पर हम जिन खूबसूरत दिखने के तरीके की बात कर रहे हैं इसका समबन्ध बाह्य खूबसूरती से है, बाह्य खूबसूरती का लेना देना त्वचा से है और हर उम्र में खूबसूरत दिखने के लिए त्वचा का ध्यान रखना बेहद जरुरी है | इसके अलावा यह भी सत्य है की हर उम्र वाले लोगों की त्वचा की जरूरतें अलग अलग होती हैं क्योंकि उम्र बढ़ने के साथ साथ ये भी बदलती रहती हैं | ऐसे में कोई भी महिला जो उसने कभी किशोरावस्था में क्रीम लगाई थी उसका इस्तेमाल बुढ़ापे में नहीं कर सकती | क्योंकि बुढ़ापे में पहुँचते पहुँचते महिला की स्किन यानिकी त्वचा बदल चुकी होती है, इसलिए हर उम्र में खूबसूरत दिखने के लिए महिलाओं को चाहिए की उन्हें खूबसूरत दिखने के तरीके में जो भी समस्याएं आती हैं उनसे बचा जाय | तो आइये जानते हैं किस उम्र में किस तरह की ब्यूटी प्रॉब्लम्स आती हैं और उनसे बचकर कोई महिला हर उम्र में खूबसूरत कैसे दिख सकती हैं | किशोरावस्था में खूबसूरत दिखने का तरीका: किशोरावस्था या अन्य किसी उम्र में खूबसूरत दिखने के तरीके यह हैं की पहले महिला को सम्बंधित उम्र में त्वचा से समबन्धित होने वाली समस्याओं के बारे में पता
Read More

Types of pedicure in Hindi

Pedicure नामक इस थेरेपी की उत्पति विभिन्न समस्याओं जैसे पैरों की त्वचा सख्त और काली हो रही हों, या फिर पैरों में ऐंठन रहती हो इत्यादि से आराम या निजात पाने हेतु हुई है | पेडीक्योर नामक यह एक ऐसी थेरेपी है , जो पैरों की त्वचा में निखार लाकर आराम देने का भी काम करती है | यद्यपि इसको पैरों की अलग-अलग समस्याओं के आधार पर उपयोग में लाया जाता है क्योंकि हर तरह की समस्या के लिए अलग अलग पेडीक्योर के प्रकार का निर्धारण किया गया है | इसलिए आज हम अपने Types of pedicure in Hindi नामक इस लेख में पेडीक्योर के कुछ प्रमुख प्रकारों का संक्षिप्त तौर पर वर्णन करेंगे | रेगुलर पेडीक्योर: यह Pedicure एक पारम्परिक तरीका है जिसमे पैरों पैरों को गुनगुने पानी में भिगोया जाता है,उन्हें रगड़ा जाता है, उन्हें साफ़ किया जाता है, इसके अलावा नाखूनों और उसके किनारों की त्वचा (क्यूटिकल्स) को काटा भी जाता है ,  इस पारम्परिक तरीके में पैरों की मालिश व नाखूनों की पॉलिश भी की जाती है । Hot Stone Pedicure: पेडीक्योर के इस प्रकार में सबसे पहले पैरों को रिलैक्स करने के लिए तेलों से मसाज दी जाती है। इससे पैरों की नसों को
Read More

आइस थेरेपी करने के तरीके एवं फायदे .

किसी को चोट लगी हो या सिर में दर्द हो इस स्थिति में आइस थेरेपी पहले से कारगर रही है लेकिन  अब ब्यूटी को निखारने में भी इस थेरेपी का इस्तेमाल होने लगा है। इसलिए ब्यूटी टिप्स नामक इस श्रेणी में आज हम आइस थेरेपी के बारे में वार्तालाप करेंगे गर्मियों में हमरी त्वचा अनेक समस्याओं से ग्रसित होती है जिनमे से एक समस्या यह भी है की बढ़ती गर्मी की वजह से चेहरे की रौनक चली जाती है। गर्मी से होने वाले पिंपल्स भी चेहरे की खूबसूरती को बिगाड़ देते हैं। इन पिंपल्स से निजात पाने के लिए आप आइस थेरेपी  की मदद ले सकती हैं। इसका कोई साइडइफेक्ट भी नहीं होता। सिर्फ पिंपल्स ही नहीं बल्कि स्किन की टैनिंग और रैशेज में भी यह राहत देती है। ये थेरेपी आमतौर पर कोरिया में कोरियन महिलाओं में बहुत ही अधिक लोकप्रिय है। इसके अलावा बहुत-सी सेलिब्रिटीज और मॉडल्स भी अपनी सुंदरता को बढ़ाने के लिए इसका प्रयोग करती हैं। आइस थेरेपी को कैसे किया जाता है | इस थेरेपी में आइसक्यूब को एक पतले सूती कपड़े में लपेटकर चेहरे पर लगाया जाता है, जो स्किन के लिए बहुत ही अच्छा होता है और बहुत-सी त्वचा से संबंधित समस्याओं
Read More