Category: हेल्थ टिप्स

मिर्गी के दौरे के दौरान क्या करना चाहिए |

इससे पहले की हम यह जान लें की यदि किसी को मिर्गी का दौरा पड़े अर्थात मिर्गी के दौरे के दौरान हमें क्या करना चाहिए उससे पहले मिर्गी के मरीज को एक बात अवश्य जान लेनी चाहिए कि मिर्गी नामक यह बीमारी कोई जानलेवा बीमारी नहीं है | इसलिए  जब तक यह सुनिश्चित न हो जाए कि मरीज को मिर्गी का दौरा ही पड़ा है या जब तक मिर्गी का दौरा 10 से 15 मिनट तक का न रहे, तब तक डाक्टर या एम्बुलेंस नहीं बुलाना  चाहिए । मिर्गी का दौरा पड़ने पर क्या करें मिर्गी के दौरे के दौरान निम्नलिखित स्टेप उठाये जा सकते हैं | यदि किसी व्यक्ति को मिर्गी को दौरा पड़ जाय तो उसे सीधा या पेट के बल कभी भी उल्टा नहीं लिटाना चाहिए । मिर्गी के दौरे के दौरान मरीज को धीरे से करवट के बल लिटाया जा सकता है, ताकि रोगी के मुंह से निकलने वाले तरल पदार्थ आसानी से बाहर आ जाएँ । मिर्गी के रोगी का मुहं जबरदस्ती खोलने की कोशिश नहीं करनी चाहिए, न ही रोगी के मुंह में कुछ भी डालने की कोशिश करनी चाहिए । रोगी के शरीर के जिस हिस्से में अकड़न हो, उसे पकड़ने या
Read More

मिर्गी के साथ आनंदमय जीवन जीने के तरीके

मिर्गी के साथ आनंदमय जीवन जीने के तरीकों के बारे में हम विस्तार से वार्तालाप करेंगे लेकिन जैसा की हम अपने पिछले लेख में मिर्गी के लक्षणों कारणों एवं ईलाज की प्रक्रिया के बारे में बता चुके हैं इसलिए सबसे पहले मिर्गी से पीड़ित व्यक्तियों को हम सलाह देना चाहेंगे की अपने चिकित्सक द्वारा निर्देशित दवाई लेना कभी न भूलें। कभी भी अपने आप अपनी दवाओं में किसी प्रकार का कोई फेर-बदल न करें। कोई भी विपरीत प्रभाव दिखाई देने पर अपने डाक्टर को सूचित करें। और  डाक्टर से पूछे बिना अपने आप दवा लेना बन्द न करें। अपने डाक्टर से नियमित रूप से अपनी जांच करवाएं । क्योंकि मिर्गी के साथ आनंदमय जीवन जीने में उपर्युक्त बातों का विशेष महत्व है | मिर्गी के साथ आनंदमय जीवन कैसे जिए : मिर्गी की बीमारी के साथ अक्सर जीवन में अलग-अलग तरह की मुश्किलें आ सकती है, लेकिन इसके बावजूद पीड़ित व्यक्ति चाहे तो आनंदमय जिन्दगी व्यतीत कर सकते हैं | यदि मिर्गी से ग्रसित रोगी अपनी नियमित जिंदगी के लिए एक अच्छी योजना बना लें तो वह हर उस काम का आनंद उठा सकता हैं, जो वह करना चाहता है । मिर्गी के साथ आनंदमय जीवन जीने के लिए
Read More

जलन से राहत पाने के कुछ घरेलू उपचार.

यद्यपि शरीर के अलग अलग हिस्सों में जलन होने के अलग अलग कारण हो सकते हैं | लेकिन जब बात जलन से राहत पाने की आती है तो बहुत सारे घरेलू नुस्खों या उपचारों के बारे में हम सोचने लगते हैं की शायद कोई ऐसा घरेलु नुस्खा याद आ जाय जिससे जलन से राहत पाने में मदद हो | शरीर के किन्हीं भी अंगों में जलन हो जाती है तो हमारी सुंदरता भी कुछ हद तक कम हो जाती है । इसलिए आज हम हमारे इस लेख के माध्यम से जलन से राहत पाने के घरेलू उपचारों के बारे में बात करेंगे | चेहरे की जलन से राहत पाने के घरेलू उपचार : चेहरे की जलन को शांत करने या कम करने के लिए पुदीने के पत्तों को पीसकर इनका लेप तैयार कर लें और उसके बाद इस लेप लो चेहरे पर 20-25 मिनट तक लगायें, और फिर ठंडे पानी से चेहरे को धो लें। पपीता पीसकर चेहरे पर लेप करने से भी चेहरे की जलन दूर हो जाती है। चेहरे की जलन से राहत पाने के लिए गाय के दूध का भी इस्तेमाल किया जा सकता है गाय के दूध को चेहरे पर मलने से भी जलन दूर
Read More

स्वस्थ्य रहने के लिए 32 हेल्थ टिप्स हिन्दी में |

निम्नलिखित कुछ ऐसे Health Tips Hindi में दिए जा रहे हैं जिनका यदि कोई भी मनुष्य अनुसरण करेगा तो शायद ही वह अपनी पूरी जिंदगी में कभी अस्वस्थ महसूस करेगा | ये जो Health Tips Hindi में नीचे दिए जा रहे हैं ये पहले पहले अनुसरण करने में असम्भव से प्रतीत हो सकते हैं लेकिन यदि इन्सान ठान ले तो क्या नहीं कर सकता फिर जब बात हमारे स्वास्थ्य की आती है तो इन्सान को चाहिए की वह अपने स्वास्थ्य को स्वस्थ्य रखने के लिए बढ़ चढ़ कर हिस्सा ले | जो व्यक्ति हमारे इस लेख को सिर्फ एक लेख न समझकर इस लेख में उल्लेखित बातों को अपने जीवन में अनुसरित करेगा हमारा अनुभव कहता है की वह व्यक्ति या उस व्यक्ति को कोई भी रोग कभी भी छूने की हिमाकत कम ही करेगा | तो आइये जानते हैं की ऐसे Health tips Hindi में कौन कौन से हैं | हमारा पहला हेल्थ टिप्स हिन्दी में प्रात: काल नींद से जागने के विषय में है जो व्यक्ति नियमित रूप से सूर्योदय से पहले बिस्तर का त्याग कर देते हैं वे कम बीमार पड़ते हैं | दूसरा टिप्स यह है की हेल्थी रहने के इच्छुक व्यक्तियों को तांबे के
Read More

खान पान के सही तरीके (Right diet rule in Hindi).

हेल्थ को स्वस्थ्य रखने के लिए यदि हम खान पान के सही तरीके अर्थात डाइट रुल की बाते करें तो हम पाएंगे की अक्सर आहार विशेषज़ यानिकी डाइटीशियन कहते हैं कि कोई भी आहार अच्छी सेहत, ताकत और स्फूर्ति तभी देता हैं, जब उसे सही तरीके से और सही समय पर लिया जाए। इसलिए आज का लेख हमारा Right Rule for Healthy diet in Hindi पर है  तो आज हम अपने इस पोस्ट के माध्यम से खानपान के सही तरीके के बारे में जानने की कोशिश करेंगे | सेहत अच्छी रहे इसलिए खाने में पौष्टिक चीजों को शामिल करना बेहद जरुरी है | लेकिन हर कोई व्यक्ति यह नहीं जानता होगा की उसके शरीर की प्रकृत्ति के मुताबिक उसके लिए सही आहार कौन सा है | साथ ही भारतवर्ष में ऐसे लोग भी देखे जा सकते हैं जो पौष्टिक आहार से होने वाले फायदों के बारे में तो जानते हैं लेकिन सही समय पर सही कॉम्बिनेशन के साथ आहार लेना वे भी जरुरी नहीं समझते कहने का आशय यह है की कोई भी खान पान शरीर के लिए तभी अच्छा होता है जब उसे सही तरीके से लिया गया हो | पानी पीने का तरीका: खानपान के सही तरीके
Read More

मानव शरीर के बारे में कुछ रोचक जानकारी |

मानव शरीर के बारे में कुछ ऐसी रोचक जानकारी हिन्दी में दी जा रही है जो शायद आपको इससे पहले नहीं पता हो क्योंकि अक्सर हमें नहीं पता होता की हमारे शरीर इतनी अजीबो गरीब चीजें या क्रियाएं दिन में हफ्ते में या महीने में विचरण करती हैं | हालांकि यह संसार ऐसा है की यहाँ किसी भी क्षेत्र में रोचकता की कमी नहीं है इसलिए आपको बहुत सारी रोचक जानकारी हिन्दी में सुनने को मिल जाती होंगी | लेकिन आज हमें खुद के अन्दर छुपी उन रोचक तथ्यों का पता चलेगा जिन्हें जानकार हम बीच में कई बार चौक भी सकते हैं लेकिन यह सत्य है क्योंकि मनुष्य का शरीर एक बेहद ही जटिल प्रक्रिया है जिसका निर्माण स्वयं जग रचियिता ने किया है | कहते हैं की शरीर के मनुष्य का खून साठ हज़ार से एक लाख मील लम्बा सफ़र तय करता है | कहते हैं की मनुष्य के मुहं के अन्दर प्रतिदिन 600 ML लार बनती है | मनुष्य का नर्वस सिस्टम विश्व की किसी भी संचार प्रणाली को चुनौती देने में सक्षम है क्योंकि इसके द्वारा मनुष्य लाखों सन्देश ग्रहण करता और उन्हें संचारित एवं प्रसारित भी करता है | मनुष्य शरीर में हर दिन
Read More

Diabetic Retinopathy

Diabetic Retinopathy नामक यह समस्या आँख से जुडी हुई एक बीमारी है इस समस्या को यदि नियंत्रित नहीं किया गया तो प्रभावित व्यक्ति आँख से अँधा भी हो सकता है | इस प्रकार की स्थिति तब पैदा हो जाती है जब उच्च ब्लड शुगर से आँख के पीछे भाग यानिकी रेटिना पर स्थित छोटी छोटी रक्त वाहिकाएं क्षतिग्रस्त हो जाती हैं | ऐसे लोग जो डायबिटीज नामक बीमारी से प्रभावित हैं उन सबमें यह बीमारी होने का खतरा रहता है | जिन लोगों में इससे प्रभावित होने की आशंका है ऐसे लोग इस प्रकार के खतरे को कम करने के लिए अर्थात Diabetic Retinopathy से बचने के लिए, या अपनी दृष्टि को खोने से बचाने के लिए, या फिर इस असर धीमा करने के लिए उनको बहुत सारी सावधानियां बरतने की आवश्यकता हो सकती है | प्रभावित व्यक्ति चाहे तो डायबिटीज को नियंत्रित करने के विषय में लिखी हमारी डायबिटीज कण्ट्रोल करने के घरेलू उपचार नामक पोस्ट पढ़ सकता है |  क्योंकि प्रभावित व्यक्ति का शुगर लेवल जितना नियंत्रित रहेगा उतना ही उसको Diabetic Retinopathy होने का खतरा कम हो जायेगा | यह भी जरुरी नहीं है की डायबिटिक रेटिनोपैथी व्यक्ति के एक ही आँख को अपना शिकार बनाएगी
Read More